अब हरियाणा सरकार किसानों से ऑनलाइन खरीदेगी फसल – हरियाणा ई-खरीद किसान पंजीकरण कैसे करें – जानें पूरी प्रक्रिया

Haryana E-Kharid Portal | हरियाणा ई-खरीद ऑनलाइन किसान पंजीकरण कैसे करें | Haryana e-Kharid Farmer Registration Apply Online | हरियाणा किसान ई-खरीद पोर्टल @ekharid.in

हरियाणा ई-खरीद: ऑनलाइन किसान पंजीकरण E-Kharid Farmer Registration
हरियाणा ई-खरीद: ऑनलाइन किसान पंजीकरण E-Kharid Farmer Registration

Haryana E-kharid Farmer Registration योजना के बारे में

योजना का नामe-Kharid Farmer Scheme
विभाग का नामHaryana Government
राज्य का नामहरियाणा
ई-खरीद पोर्टलekharid.in
ई-खरीद टोल फ्री हेल्प लाइन नंबर 18001802060

हरियाणा ई- खरीद: Haryana E-Kharid Farmer Yojana 2020

दोस्तो, Haryana e-Kharid पोर्टल की मदद से किसान अपनी फसल की बिक्री के लिए ऑनलाइन पंजीकरण करवा सकते हैं, वह भी घर बैठे। सरकार की यह योजना किसानों की सहूलियत के लिहाज से काफी कारगर साबित हो रही है और वह इसके उपयोग से अपने उपज को बेचने के लिए आसानी से रजिस्ट्रेशन कर पा रहे हैं। दोस्तो आज के अपने आर्टिकल में हम आपको हरियाणा सरकार की इस महत्वाकांक्षी पहल के बारे में पूरी जानकारी देंगे, जिससे आप भी आसानी से इसका फायदा ले सको।

क्या है हरियाणा ई- खरीद पोर्टल?

इसके जरिए किसान अपनी फसल को पूरी पारदर्शिता के साथ बेचने के अलावा उसका सही दाम भी हासिल कर सकते हैं। सरकार द्वारा इसके रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया काफी सरल रखी गई है, जिसके जरिए किसान इसका लाभ ले सकते हैं। सरकार की इस योजना का संचालन राज्य कृषि विपणन बोर्ड के अन्तर्गत किया जा रहा है।

पीएम वय वंदना योजना 2020

हरियाणा ई- खरीद पोर्टल का उद्देश्य एवं लाभ

जैसा कि हमने आपको पहले बताया, कि इस पोर्टल का उद्देश्य हरियाणा के किसान भाइयों का सहूलियत प्रदान करना है। जिसका लाभ उन्हें मिल भी रहा है, और उन्हें अपनी उपज को बेचने के लिए एक पारदर्शी और सुलभ प्लेटफॉर्म मिला है। आइए अब जानते हैं, कि क्या है Haryana e-Kharid Farmer Registration के प्रमुख लाभ।

  • फसल को न्यूनतम समर्थन मूल्य पर बेचना आसान हुआ।
  • किसानों को उनकी उपज का सही मूल्य मिलने लगा।
  • किसानों को फसल बेचने के लिए बिचौलियों से मुक्ति मिली।
  • इस पोर्टल पर किसानों को कई और कृषि सुविधाएं भी मिलती है।

पंजीकरण के लिए पात्रता एवं जरूरी दस्तावेज

हरियाणा ई- खरीद पोर्टल के लिए उपज बिक्री का लाभ सिर्फ हरियाणा के किसान ही ले सकते हैं, जिनका खातेदार होना जरूरी है। आइए अब आपको पंजीकरण से जुड़े जरूरी दस्तावेज के बारे में बताते हैं।

मधुमक्खी पालन योजना से ग्रामीणों और महिलाओं को मिलेगा रोजगार

  • आवेदक का मूल निवासी प्रमाण पत्र/पहचान पत्र एवं आधार कार्ड
  • आवेदक किसान के बैंक खाते की जानकारी
  • आवेदक का पासपोर्ट साइज फोटो
  • भूमि का क्षेत्रफल और श्रेणी संबंधित जानकारी

हरियाणा ई- खरीद पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कैसे करें? | Haryana E-Kharid Farmer Registration Online 2020

फसल बिकवाली के लिए हरियाणा ई- खरीद पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन के लिए आपको निम्न लिखित प्रक्रिया को अपनाना होगा, जिसके माध्यम से आप आसानी के साथ रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं।

फसल बेचने के लिए ऑनलाइन किसान पंजीकरण कैसे करें?

  • किसानों के रजिस्ट्रेशन के लिए आपको इसकी ऑफिशियल बेवसाइट पर जाना होगा।
  • यह वेबसाइट है- https://ekharid.in/
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको‘किसान पंजीकरण‘ का एक विकल्प दिखाई देगा।
  • आप जैसे ही इस विकल्प पर क्लिक करोगे, तो आपके सामने एक नई विंडो खुलेगी।
  • इसमें विंडों में आपके सामने रजिस्ट्रेशन के दो विकल्प आएंगे, इसमें आप साधारण पंजीकरण पर क्लिक करके आगे बढ़ें।
  • इसके बाद आपके सामने रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुलकर आएगा।
  • ये रजिस्ट्रेशन कुल चार चरणों में होगा, पहले में किसान की जानकारी, दूसरे में फसल का विवरण, तीसरे में आवेदक किसान का बैंक खाता विवरण और चौथे में मंडी या फिर आढ़तिया का विवरण भरना होगा।
Haryana E-Kharid Farmer Registration Form
  • इस जानकारी को भरने के बाद आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा, इस तरह आपके रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।
  • इस दौरान आपको एक रजिस्ट्रेश नंबर भी प्राप्त होगा, जिसके माध्यम से आप लॉग इन करके अपने रजिस्ट्रेशन संबंधी जानकारी ले सकते हैं।

PM Kisan: घर लौटे मजदूरों के खाते में 6000 रुपये आयेंगे

लेटेस्ट सरकारी योजना न्यूज हिंदी मेंक्लिक करें
सभी सरकारी योजनाक्लिक करें

Leave a Comment